कभी न भूलो इन 17 अनमोल वचनो को - Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko




कभी न भूलो इन 17 अनमोल वचनो को - Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko 

दोस्तों यह अनमोल वचन (Anmol Vachan) आप ने शायद ही पढ़े होंगे। इन अनमोल वचनो (Anmol Vachano) को ध्यान से पढ़िए। और अपने दिमाग पर ज़ोर डालिये की यह अनमोल वचन (Anmol Vachano) क्या सिखाना चाहते है। " Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano  "


कभी न भूलो इन अनमोल वचनो को - Kabhi Na Bhulo In Anmol Vachano Ko
 Kabhi Na Bhulo In Anmol Vachano Ko

कभी न भूलो इन 17 अनमोल वचनो को - Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko

Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko

 1. प्रेम ऐसी शक्ति है जो किसी भी आत्मा को जीत सकती है।

2. अगर आप किसी को जीतना चाहते हो तो बुराइयों को जीत लो।

3. परमपिता परमात्मा को जानकर ही विश्व शांति संभव है। महापुरुषों, गुरुओं, अवतारों के पद चिन्हों पर चल कर ही कल्याण संभव है।मानवता की आध्यात्मिकता से ही बचाया जा सकता है। 

4. मानव की हत्या करना किसी भी धर्म गुरु, पीर-पैगंबर की शिक्षा नहीं रही हैं। धर्म तो जोड़ना सिखाता है। इसलिए निरीह नागरिकों की हत्या किसी प्रकार धार्मिक कृत्य हो नहीं सकता। 

जीवन को हानि पहुंचाकर मानव किसी को भी लाभ नहीँ पहुंचा सकता बल्कि स्वयं उसे भी अनेकों प्रकार के नुक्सान उठाने पड़ेंगे। " Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko "

5. हँसना जीवन की अमूल्य निधि है। लेकिन याद रखो किसी की कमजोरी पर हँसना कायरता कि निशानी है।


6. जहाँ नम्रता से काम निकल जाये, वहाँ उग्रता नहीं दिखानी चाहिए।
( स्वामी विवेकानन्द  )

7. फूल खिलने दो मधुमक्खीया अपने आप उस के पास आ जायेगी। चरित्र वान बनो जगत अपने आप मुग्ध हो जायेगा। ( प्रेमचंद )

 8. यह धरती ही हमारी कर्मभूमि है । ( महाभारत  )

 9. दूसरों के साथ वैसा ही बर्ताव करो जैसा दूसरों से तुम अपने लिए चाहते हो। ( जीसस  )

10. सम्पूर्ण विश्व मुझे में ही व्याप्त है तथा विश्व के समस्त जीवों में मैं ही व्याप्त हूँ। ( भगवान् श्री कृष्ण )

11. लोभी मनुष्य धन की सेवा करता है, धन उसकी सेवा नही करता हैं। ( निरंकारी बाबा जी )

12. सफ़लता का एक ही मंत्र है --- पक्का इरादा, दूर दृष्टि, कड़ी मेहनत और अनुशासन। 

13. आलस्य करने से प्राप्त किया गया ज्ञान भी शीघ्र ही नष्ट हो जाता है। 

14. अवसर को खो देना सफ़लता को खो देना है। ( कार्ल मार्क्स )

15. प्रेम वो चाबी है जो खुशियों के तालो को खोल देती है। ( पोण्ड्रिक )

16. संसार में सबसे बड़ा अधिकार अधिकार सेवा और त्याग से मिलते है। 

17. एक अच्छी माँ हजार शिक्षक के समान है। ( मुंशी प्रेमचंद )

यह अनमोल वचन भी पढ़े :-

Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko




Final Word :-

दोस्तों में उम्मीद करता हु की आपको यह 
कभी न भूलो इन 17 अनमोल वचनो को 
[ Kabhi Na Bhulo In 17 Anmol Vachano Ko ]
Article पसंद आया होगा। अपने विचार Comment Box में दे
और इससे अपने दोस्तों के साथ Share करे।

धन्यवाद 

Post a Comment

0Comments